भारतीय छात्रों ने किस तरह से 6 दिन में दुनिया का सबसे पतला उपग्रह बना डाला: SPACE DYNAMICS

छह साल पहले, कुछ भारतीय छात्रों ने मिल कर एक सपने को साकार करने का कार्य आरंभ किया - भारत के लिए उपग्रह बनाए जाएं और अंतरिक्ष मिशन डिज़ाइन किए जाएं।

जनवरी 2019 में, इन्होंने मात्र छह दिनों में दुनिया का सबसे पतला, सबसे हल्का उपग्रह सफलतापूर्वक बनाकर और प्रक्षेपित करके इतिहास में अपना नाम दर्ज करवा लिया।
फोटो: स्पेस किड्ज इंडिया के श्रीमति केसन जनवरी 2019 में लॉन्च से पहले कलामसैट वी 2 को थामे हुए। फोटोग्राफस: स्पेस किड्ज़ इन्डिया के सौजन्य से।
2017 में, अमेरिकी अंतरिक्ष अभिकरण्, नेशनल एयरोनॉटिक्स एन्ड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन ने चेन्नई स्थित स्पेस किड्ज़ इन्डिया द्वारा बनाए गए 64 ग्राम वज़न वाले सब-ऑर्बिटल उपग्रह का प्रक्षेपण किया, जिससे भारत में अंतरिक्ष शि‍क्षा के क्षेत्र का सूत्रपात हुआ।
भारतीय छात्रों द्वारा बनाया गया 'गुलाब जामुन' नामक दुनिया का सबसे पतला उपग्रह बन पाता, कमी बस इतनी सी रह गई कि यह सब-ऑर्बिटल था और इसे ऑर्बिट यानी कक्षा में परिक्रमा किए जाने के लिए नहीं बनाया गया था।
For full reading of the article, please click the link given below:-

Comments

Post a comment

Popular posts from this blog

Flight Without Formulae Questions

Few Questions of Fluid Mechanics

SPV Aerodynamics Competition-1: Total Project/Prize Money Rs 22000/-.